रविवार, 20 जून 2010

टाईटल टैग से सम्वंधित एस.ई.ओ. टिप्स

टाईटल टैग किसी भी बेवपेज का महत्त्वपूर्ण हिस्सा होता है। यह वह पहली चीज है जो सर्च रिजल्ट्स में सबसे पहले दिखाई देती है,  इसी जानकारी को सर्च इंजन पर देख कर यूजर साइट तक पहुँचता है। अतः हम कह सकते हैं की  टाईटल टैग एस.ई.ओ. का अहम् हिस्सा है।

यहाँ मैं आप लोगों को टाईटल टैग लिखने से सम्बंधित कुछ जरूरी बातें बता रहा हूँ। -
  1. टाईटल कि लम्बाई अधिक से अधिक 64 कैरेक्टर तक (रिक्त स्थान को सम्मिलित करते हुए) सीमित होनी चाहिए।
  2. टाईटल टैग में हमेशा खोज-शब्द (Keywords)  , वाक्यांश (Pharases) का प्रयोग करना चाहिए, यह हमेशा ध्यान रखें कि इससे हमारा टाईटल वास्तविक टाईटल लगना चाहिए न कि खोज-शब्द या वाक्यांश।
  3. यदि आप साइट का टाईटल ब्रांड के टाईटल के अनुसार रखना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने ब्रांड के नाम को साइट के टाईटल के अंत में जोड़ सकते हैं।
  4. याद रखें आपकी साइट के प्रतेक पेज का टाईटल अलग अलग होना चाहिए। ब्लोगर्स को इसकी चिंता करने की कोई जरूरत नहीं, क्यों कि ब्लॉग की हर पोस्ट का टाईटल पोस्ट के अनुसार अलग अलग होता है।
  5. छोटे पेज टाईटल हमेशा बड़े टाईटल से बेहतर होते हैं। उदा:-  एक टाईटल के दो खोज-शब्दों Search enginge optimization , Search engine marketing को हम इस प्रकार जोड़ कर छोटा कर सकते हैं Search engine optimization & marketing
  6. एक सम्मोहक टाईटल अधिक से अधिक लोगों को अपनी और आकर्षित करता है अतः आपको अपने टाईटल में निरंतर सुधार की जरूरत है।
पिछली  पोस्ट में किसी ने कहा था की आपने नया क्या बताया है ? अतः आप लोगों से निवेदन है की अगर आपको इसमें कुछ नया या अच्छा लगे तो जरूर बतायें।

5 टिप्‍पणियां:

  1. उपयोगि सूचना:

    धन्‍यवादा: ।।


    http://sanskrit-jeevan.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  2. जानकारी तो बढ़िया है लेकिन थोड़ा समझाने में समय लगेगा

    उत्तर देंहटाएं
  3. @निर्मला जी
    इसके सम्बन्ध में मैंने आपको ईमेल कर दिया है

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुनील जरा मुझे अपना ईमेल भेजो..कुछ व्यवसायिक चर्चा करना है.

    उत्तर देंहटाएं